घर से भागे युगल के शव इन्दिरा गांधी नहर में मिले

श्रीगंगानगर। इन्दिरा गांधी नहर की बुर्जी संख्या 465 पर बने हैड के पास से बुधवार सुबह एक युवक व युवती के शव बरामद हुए हैं। यह युगल पिछले तीन दिनों से लापता होने की वजह से घर वाले उन्हें ढूंढ़ रहे थे। इनमें से युवक विवाहित व एक बच्चे का पिता है। बीकानेर जिले में छतरगढ़ थाना के प्रभारी हंसराज लूणा ने बताया कि आज सुबह इन्दिरा गांधी नहर की बुर्जी संख्या 465 पर बने हैड के पास युवक-युवती के शव नहर किनारे अटके हुए दिखाई दिये। मौके पर गये एएसआई जीवराज सिंह ने इन्हें बाहर निकलवाया। इनकी कुछ ही देर बाद पहचान हो गई। मृतक युवक 28 वर्षीय सोनपाल पुत्र रामस्वरूप मेघवाल रायसिंहनगर तहसील क्षेत्र के गांव बगीचा का निवासी था। उसके साथ मृत पाई गई युवती हनुमानगढ़ टाऊन थाना क्षेत्र के गांव मैनावाली की निवासी 20 वर्षीय सुमन पुत्री कृष्णलाल है। थानाधिकारी ने बताया कि पेशे से फोटोग्राफर सोनपाल कुछ अरसा पहले एक विवाह समारोह की वीडियोग्राफी-फोटोग्राफी करने के लिए मैनावाली गांव में गया था। वहां सुमन भी आई हुई थी। इस दौरान दोनों में हुई जान-पहचान बाद में प्रेम सम्बंध में बदल गईऔर विगत 28 मई को दोनों अपने-अपने घर से गायब हो गये। इसी दिन हनुमानगढ़ टाऊन थाना अधीन शेरगढ़ चौकी क्षेत्र में नहर के किनारे सोनपाल का मोटरसाइकिल और सुमन का दुपट्टा व चप्पलें पड़ी हुई मिली थीं। उसी दिन से ही दोनों के परिवार वाले आशंकित हो गये कि इन दोनों ने नहर में छलांग लगा दी है। लिहाजा वे इन्दिरा गांधी नहर और उसकी वितरिकाओं-शाखाओं में इनकी तलाश कर रहे थे। आज सुबह आरडी 465 हैड पर इनके शव पाये जाने के कुछ ही देर बाद इनके परिवार वाले भी वहां पहुंच गये।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: